देश

Delhi : ‘S.E.X’ स्कूटर की वजह से घर से बाहर नहीं जा जा पा रही लड़की, जानिए क्या है मामला!

अगर आपकी नई गाड़ी का नंबर आपके लिए एक समस्या और शर्मिंदगी का कारण बन जाए तो आप क्या करेंगे? ऐसा ही वाकया दिल्ली के एक कॉलेज स्टूडेंट के साथ हुआ। लड़की का काल्पनिक नाम प्रीति है। काल्पनिक नाम इसलिए क्योंकि हम उसका असली नाम नहीं बता सकते।

प्रीति दिल्ली के एक मध्यमवर्गीय परिवार की बेटी हैं। पिछले महीने प्रीति का जन्मदिन था, उसने अपने पिता से जन्मदिन के उपहार के रूप में स्कूटर मांगा। क्योंकि प्रीति अभी कॉलेज जाती है, तो प्रीति के पिता ने अपनी जमा पूंजी से उसके लिए दिल्ली की एक दुकान से एक स्कूटर बुक किया।

अब तक सब कुछ ठीक था। परेशानी प्रीति की गाड़ी के नंबर से शुरू हुई। दरअसल प्रीति को दिक्कत गाड़ी के नंबर से था जो उसे आरटीओ से मिला था, जिसके बीच के अंको में S.E.X अल्फाबेट्स थे।

प्रीति के भाई जब गाड़ी पर नंबर प्लेट लगवाने जा रहे थे, उन्हें इस बात का अंदाजा नहीं था कि ये तीन शब्द उनके परिवार की मुश्किलें बढ़ा देंगे। क्योंकि गाड़ी की नंबर प्लेट पर S.E.X लिखा था जो लोगों को अजीब लगता था। उसके बाद क्या होना था, रास्ते में आते जाते कई लोग प्रीति भाई पर नंबर प्लेट को लेकर तरह-तरह के कमेंट करने लगे।

घर लौटने के बाद प्रीति के भाई ने घरवालों को ये बातें बताई, जिससे प्रीति डर गई। प्रीति ने फिर अपने पिता से गाड़ी का नंबर बदलने को कहा, दिल्ली में आरटीओ के एक अधिकारी से इस बारे में बात की तो उन्होंने कहा कि इस सीरीज की करीब दस हजार गाड़ी के नंबर आवंटित किए जा चुके हैं. प्रीति का गाड़ी लेकर तथा लोगों से बचकर घर से बाहर निकलना भी मुश्किल हो गया था।

प्रीति अब अपनी गाड़ी का नंबर बदलना चाहती है, लेकिन यहां सवाल यह है कि क्या यह संभव है?, इसका जवाब जानने के लिए हमने कमिश्नर ऑफ दिल्ली ट्रांसपोर्ट के.के दहिया से बात की तो उन्होंने बताया कि- ‘एक बार गाड़ी का नंबर अलॉट होने के बाद उसे बदलवाने का अब तक कोई प्रावधान नहीं है क्योंकि ये सारी प्रक्रिया एक सेट पैटर्न पर चलती है।

हुड़दंग न्यूज

हुड़दंग न्यूज (दबंग शहर की दबंग खबरें) संवाददाता की आवश्यकता है- संपर्क कीजिये-  hurdangnews@gmail.com

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button