मनोरंजन

Gold Anklet : आखिर क्यों पैरों में नहीं पहनी जाती है सोने की पायल,जानिए क्या है वजह

Gold Anklet : अक्सर हम आपके हाथों को सजाने के लिए कुछ खास डीप (deep) का इस्तेमाल करते हैं। संरचना (structure) को मजबूत करने के अलावा ये गहरे कारक (deep factor) शरीर के लिए फायदेमंद होते हैं।

Gold Anklet : इया को आखिरकार पता चला कि तलवे क्यों पहने जाते हैं। इसका ज्योतिषीय कारण क्या है? जब शादी के बाद पहने जाने वाले गहनों (jewellery) की बात आती है,

तो सबसे प्रमुख बीच और पायल होते हैं ढेर के शोर का मेरे घर के लोगों पर सकारात्मक प्रभाव (Positive influence)  पड़ सकता है, और कई अन्य लोग हमें लाभान्वित करते हैं।

सिर्फ इन दो वजहों से पैरों में नहीं पहना जाता ''सोना'', जानें इसके पीछे की  सच्चाई | Hari Bhoomi

ज्योतिष में हमेशा पायल पहनने की सलाह दी जाती है। दार असल पांव में सोना या आभूषण नहीं पहनना चाहिए। आपके लिए धन हानि हो सकती है।

आईए ज्योतिषी और ज्योतिषी डॉ आरती दहिया जीत जानिए पैरों में क्या पहनना चाहिए और क्या नहीं पहनना चाहिए नुकसान और क्षति के ज्योतिषीय कारण।

Gold Anklet : सोना को मां लक्ष्मी का रूप माना जाता है

हिंदू विज्ञान के अनुसार माता लक्ष्मी को माना जाता है और माना जाता है कि पायल, बिछिया आदि आभूषण सोने और धातु के बने हों तो उन्हें धारण करना माता से लक्ष्मी का अपमान है।

देवी लक्ष्मी का वास होता है। घर की आर्थिक स्थिति बिगड़ (situation worsened) सकती है। चंकी सोना भगवान विष्णु की प्रिय धातु है इसलिए इसे पैरों में न पहनने की भी सलाह दी जाती है।

gold payal or jewellery not worn on the feet body may have to face many  problesm know reason here pcup | जानिए पैरों में क्यों नहीं पहनी जाती सोने  की पायल?, सेहत

Gold Anklet : क्या है वैज्ञानिक कारण?

फुटो में सोने (gold) का वेश धारण किया जाता है और इसका कारण यह है कि फुटू (break up) को मन के आकार में गर्म किया जाता है।

कमर के ऊपर सोने के आभूषण (gold jewellery) और कमर के नीचे शेपवियर शरीर के तापमान को बनाए रखते हैं। यदि आप शरीर के सभी अंगों का पोषण करते हैं

तो आपको अपने शरीर को मजबूत बनाना होगा। ओय तेजा और चंडी आप दोनों बन जाएं तो आपके शरीर को आभूषण धारण करने में काफी दिक्कतों (problems) का सामना करना पड़ सकता है।

सोना, पैर में क्यों नहीं पहनना चाहिए? - why gold is not worn on the foot? -  Navbharat Times

Gold Anklet : पैरों में किस धातु के आभूषण पहनने चाहिए?

बवासीर की बात करें तो हमेशा धातु की बनी बवासीर को धारण करना चाहिए। इस धातु से बनी ढेरी शरीर का तापमान बनाती है। चंद्रमा धात्विक शरीर को कोटल रखता है।

उसी कारण से यह तापमान को नियंत्रित करता है। चंद को चंद्र धातु भी माना जाता है। इसलिए शरीर में चरदी रखने से चंद्रमा अच्छी स्थिति में बनता है

और शरीर को ऊर्जा मिलती है। गहरे कपड़ों (Dark clothes) में कमर और पैरों के ऊपर सोना सिर से पैर की अंगुली और पैर की अंगुली में ताकत प्रदान करता है, और कई बीमा से बाहर हो जाते हैं।

सिर्फ इन दो वजहों से पैरों में नहीं पहना जाता ''सोना'', जानें इसके पीछे की  सच्चाई | Hari Bhoomi

Gold Anklet : पैरों में कपड़े पहनने के ज्योतिषीय कारण

जातक पैरों के जिस भाग पर पीलापन धारण करता है, उसे ज्योतिष में केतु का स्थान माना जाता है।

माना जाता है कि केतु को सदैव शीतल (Always cool) बनाना चाहिए। अगर आप कूल डाउन नहीं कर पाते हैं तो इसका शरीर पर नकारात्मक प्रभाव पड़ेगा।

यह धातु के शरीर के तापमान को नियंत्रित करने के साथ-साथ शरीर को ऊर्जा (energy) प्रदान करने में मदद करता है।

आखिर क्यों पैरों में नहीं पहनना चाहिए सोना, चौकाने वाला है कारण | NewsTrack  Hindi 1

Also Read –  Cement – मकान बनाने खुशखबरी, घट गए सरिया, सीमेंट सहित इन चीजों के दाम

Also Read – Maruti Alto फिर अपने नए अंदाज में,फीचर्स के साथ लुक भी है बहुत जबरदस्त,देखिए

Also Read – Taarak Mehta – नहीं रही दया बैन

Also Read – पांच साल में भी 63 करोड़ के निर्माण कार्य ठण्डे बस्ते में

Important  अपने आसपास की खबरों को तुरंत पढ़ने के लिए एवं ज्यादा अपडेट रहने के लिए आप यहाँ Click करके हमारे App को अपने मोबाइल में इंस्टॉल कर सकते हैं।

हुड़दंग न्यूज

हुड़दंग न्यूज (दबंग शहर की दबंग खबरें) संवाददाता की आवश्यकता है- संपर्क कीजिये-  hurdangnews@gmail.com

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button