व्यापार

Houses And Buildings – अब गांवों में भी भवनों के निर्माण के लिए नए नियम लागू

houses and buildings – अब ग्रामीण लोगों में भी घर बनाने के लिए नक्शा पास कराना अनिवार्य होगा।घर के नक्शे गांव से गांव तक पहुंचाए जाएंगे। नक्शा पास कराने के लिए अब ऑफलाइन मोड में जिला मंत्री के पास आवेदन किया जाएगा और एक सप्ताह में नक्शा पास कर दिया जाएगा।

  गोरखपुर विकास प्राधिकरण (डीए) की तरह नगर निगम, नगर पंचायत, जिला पंचायत में भी उपनियम है। अब आवासीय या व्यावसायिक निर्माण भागीदार जिला परिषद से लेकर ग्रामीण जनता तक नक्शा पास करेंगे। यह 300 वर्ग मीटर या 3230 वर्ग फुट से अधिक क्षेत्र बनाने वाले उप-नियम लागू करेगा। यह नियम लागू किया गया है। इस नियम की वजह से लोग थोड़े ढीले रहेंगे लेकिन कई फायदे होंगे।

जिला परिषद को वर्तमान ऑफलाइन मोड में आवेदन करना होगा और एक सप्ताह में नक्शा पास हो जाएगा। यह उपाय गोरखपुर मंडल में शुरू से महराजगंज और कुशीनगर जिलों में लागू किया गया है, अब केवल देबोरिया जिले को बचा लिया गया है, जहां ग्रामीण क्षेत्रों में मानचित्र पास को रोकने की आवश्यकता नहीं है।

houses and buildings, जिला पंचायत द्वारा लागू किये गये उपनियमों से जोरों पर चल रहे षडयंत्रों पर अंकुश लग सकेगा

houses and buildings ग्रामीण भाषाओं में इसके निर्माण के लिए उपनियम लागू किए गए हैं। इसे नगर पालिका के बाहर जीडीए, गिदा नगर निगम उपनियम लागू करें। 3230 वर्ग फुट से कंबल बनाने के लिए मानचित्र पास क्षेत्र से अनुमति की आवश्यकता नहीं है।

आवासीय भवनों के लिए कुल कवर एरिया 50 रुपये प्रति मीटर और व्यावसायिक भवनों के लिए 100 रुपये प्रति वर्ग मीटर मैप पास सुविधा के लिए है। यदि इस नई व्यवस्था से ग्रामीण प्रभावित होते हैं तो चढ़ाना भी बंद हो सकता है। जिला मंत्री का पूरा जोर व्यवसायिक निर्माण पर ही होगा।

houses and buildings  में बिना नक्शा पास किए बैंकों से कर्ज नहीं मिलेगा, लेकिन नक्शा पास होने के बाद कर्ज मिलेगा। जिन लोगों को 3230 वर्ग फीट से कम का क्षेत्र बनाना है, उन्हें भी आवेदन करने और बैंक से ऋण प्राप्त करने की अनुमति दी जा सकती है।

houses and buildings, नक्शा पास बंद करने आया था

houses and buildings एक रजिस्ट्रार को इसकी विभिन्न अधिसूचनाओं के साथ डिजाइन तैयार कर जिला परिषद कार्यालय में जमा करना होगा। नक्शा आवासीय हो या व्यावसायिक, उसकी भी मैपिंग की जानी चाहिए। साथ ही भूमि स्वामित्व पत्र की राशि भी देनी होगी। परीक्षण के अग्नि परीक्षण, पर्यावरण आदि से अनापत्ति नहीं देनी होगी। आवेदन की रसीद प्राप्त की। नक्शा पास होने के बाद बनाया जा सकता है।

houses and buildings, अधिभोग एक व्यवस्थित प्रयास हो सकता है

houses and buildings ग्रामीण ही उत्पीड़कों का पेशा बनाते हैं आरोप स्वीकार करें, लेकिन किसी का विरोध नहीं करना है। जिला मंत्री उपनियम लागू होने से अब इस धंधे में चरणबद्ध आधार पर बुलडोजर का प्रयोग किया जा सकेगा और माफियाओं को हतोत्साहित किया जाएगा।

ग्रामीण आबादी बनाने के लिए नक्शे पारित किए जाएंगे। ईकोसावा ने जिला परिषद में व्यवस्था की है। आवेदन के स्वचालित होने के बाद अधिकतम एक सप्ताह के भीतर मानचित्र को पारित करने का प्रयास किया जाएगा। व्यवसाय बनाना बंद कर सकते हैं। नक्शा पास नहवर पर सख्त अभियान।

houses and buildings - अब गांवों में भी भवनों के निर्माण के लिए मकानों, नक्शों से गुजरना पड़ता है नए नियम लागू
photo by google

Also Read –    सिंगरौली के बच्चे ने किया top

Also Read –  Marriage Without Dowry: मध्यप्रदेश में हो रही बिना दहेज वाली शादी

Also Read –    MP Politics : वीडी शर्मा ने विधानसभा अध्यक्ष को लिखा पत्र, कमलनाथ पर कार्रवाई की मांग

Also Read –  छात्र खुद खोलते और बंद करते हैं स्कूल का ताला

Important  अपने आसपास की खबरों को तुरंत पढ़ने के लिए एवं ज्यादा अपडेट रहने के लिए आप यहाँ Click करके हमारे App को अपने मोबाइल में इंस्टॉल कर सकते हैं।

Important :  हमारे Whatsapp Group से जुड़ने के लिए यहाँ Click here करें।

हुड़दंग न्यूज

हुड़दंग न्यूज (दबंग शहर की दबंग खबरें) संवाददाता की आवश्यकता है- संपर्क कीजिये-  hurdangnews@gmail.com

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button