भोपालमध्यप्रदेश

मैंने तुहारी भांजी की हत्या कर दी है…

भोपाल । भारतीय विज्ञान शिक्षा एवं अनुसंधान संस्थान (आईआईएसईआर) के सामने रहवासी कॉलोनी के पास नाले में शनिवार सुबह बोरी में बंद युवती की लाश मिलने से सनसनी फैल गई। युवती के सिर व पेट में चोट के निशान है। हैरानी वाली बात यह है कि रात में ही युवती के कथित प्रेमी ने फोन कर युवती की मामी से कहा था कि मैंने तुहारी भांजी की हत्या कर दी है। उसकी लाश सफेद बोरी में बंद कर नाले में फेंक दी है। जाकर उठा लो। हालांकि युवती के मामा-मामी ने घटना की जानकारी पुलिस को दी थी और पुलिस ने इलाके में छानबीन की थी लेकिन ऐसी किसी घटना की तस्दीक नहीं हो सकी थी। शनिवार सुबह स्थानीय रहवासी ने नाले में बोरी बंद लाश पड़ी होने की सूचना पर खजूरी सड़क पुलिस मौके पर पहुंची थी। युवती की गुमशुदगी दर्ज कराने वाले मामा ने मृतका की पहचान भांजी के रूप में की थी। पुलिस ने युवती के कथित प्रेमी के खिलाफ हत्या का प्रकरण दर्ज कर खोजबीन शुरू कर दी है। थाना प्रभारी संध्या मिश्रा ने जानकारी देते हुए बताया कि शनिवार 23 जुलाई की सुबह करीब साढ़े नौ बजे स्थानीय रहवासी ने पुलिस कंट्रोल रूम को सूचना दी कि यहां आईआईएसईआर के सामने कॉलोनी के पास नाला ग्राम भौरी बंगला में अनाज की सफेद प्लास्टिक की बोरी में बंद किसी की लाश पड़ी है। सूचना मिलते ही खजूरी सड़क पुलिस और फोरेंसिक टीम मौके पर पहुंच गई। बोरी को नाले से बाहर निकालकर देाा गया तो उसमें युवती की खून से लथपथ लाश मिली। युवती के सिर में पीछे की तरफ व पेट में चोट के निशान थे। सिर में किसी भारी वस्तु और पेट में चाकू घोंपे जाने का निशान था। हालांकि पुलिस को घटनास्थल से चाकू नहीं मिला है और न ही खून के निशान वहां कहीं आसपास मिले हैं। इससे अंदाजा लगाया जा रहा है कि किसी अन्य स्थान पर हत्या करने के बाद लाश को नाले में ठिकाने लगाया गया है। युवती के कपड़े और हुलिए के बारे में आसपास के थानों को सूचना दी गई तो पता चला कि निशातपुरा थाना क्षेत्र से एक युवती लापता है। लिहाजा युवती की गुमशुदगी दर्ज कराने वाले मामा राजेश झांझा (45) को घटनास्थल पर बुलाया गया। राजेश ने मृतका की पहचान अपनी भांजी कशिश जैसवाल पुत्री राहुल जैसवाल (22) के रूप में की। पुलिस ने पंचनामा बनाकर लाश को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया था। थाना प्रभारी संध्या मिश्रा के मुताबिक कशिश के मामा राजेश व उनकी पत्नी ने खुलासा करते हुए बताया कि अतर अली नामक युवक ने उनकी भांजी की हत्या की है। दरअसल अतर अली उसका कथित प्रेमी था। घटना वाली रात युवती की हत्या करने के बाद ग्राम भौंरी बंगला निवासी अतर अली ने कशिश की मामी से मोबाइल फोन पर संपर्क कर कहा था कि उसने कशिश की हत्या कर दी है। लाश को उसने सफेद बोरी में बंद कर गांव के सामने नाले में फेंक दिया है। मामा-मामी के खुलासे के बाद पुलिस की टीम अतर अली के घर पहुंची थी लेकिन वह वहां नहीं मिला। घर की तलाशी लेने पर एक कमरे में काफी खून पड़ा मिला जबकि एक डंडा भी वहां पड़ा मिला। संावत: डंडे से सिर पर वार करने के बाद आरोपी ने पेट में चाकू घोंपकर कशिश की हत्या की होगी। थाना प्रभारी ने बताया कि आरोपी द्वारा हत्या करने की जानकारी परिजनों को देने से प्रतीत हो रहा है कि या तो वह सनकी किस्म का है अथवा बहुत अधिक परेशान रहा होगा। आरोपी की गिरतारी के बाद ही सच्चाई का खुलासा हो सकेगा।

नशातपुरा थाने के एसआई बनवारीलाल ने बताया कि विगत 22 जुलाई गुरुवार की रात करीब 8 बजे कशिश सजी लेने का कहकर एटिवा पर घर से निकली थी। उसके बाद वह लौटी नहीं। सागर गेरे के पास जेल रोड निवासी राजेश ने 23 जुलाई का निशातपुरा थाने में गुमशुदगी दर्ज कराते हुए बताया था कि करीब एक घंटे बाद उन्होंने फोन लगाया था कि अब तक यों नहीं लौटी। तब कशिश ने कहा था कि थोड़ी देर में आती हूं। उसके बाद रात सवा 9 बजे से उसका मोबाइल फोन लगाकर बंद आता रहा। हर संभव ठिकानों पर तलाश करने के बाद अगले दिन मामा राजेश ने गुमशुदगी दर्ज कराई थी। राजेश ने पुलिस को बताया कि कशिश की मां की दूसरी शादी के बाद से ही कशिश उनके पास रह रही थी। कशिश पांचवीं कक्षा तक पढ़ी थी और घर में ही रहकर काम करती थी।

हुड़दंग न्यूज

हुड़दंग न्यूज (दबंग शहर की दबंग खबरें) संवाददाता की आवश्यकता है- संपर्क कीजिये-  hurdangnews@gmail.com

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button