इन्दौरमध्यप्रदेश

इंदौर में निगम अधीक्षक ने ली 25 हजार की रिश्वत, अलमारी से भी मिले 10 लाख रुपए

इंदौर में सोमवार की दोपहर पच्चीस हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथो गिरतार हुए नगरपालिक निगम में पदस्थ एक अधीक्षक के कार्यालय कक्ष से लोकायुत पुलिस को 10 लाख से ज्यादा नकद रुपए मिले हैं। उप अधीक्षक (डीएसपी, लोकायुत) प्रवीण ङ्क्षसह बघेल ने बताया कि नगरनिगम के जनकार्य विभाग के अधीक्षक विजय ससेना और उनकी एक लर्क को सुबह रिश्वत राशि लेते हुए रंगे हाथों गिरतार किया था। इस ट्रेप कार्यवाही के बाद लोकायुत पुलिस ने जब आरोपी ससेना के कार्यालय कक्ष में रखी अलमारी की तलाशी ली, तब उसमे दस लाख अड़सठ हजार दो सौ रुपए नगद मिले है। शुरुआती पूछताछ में ससेना ने लोकायुत को बताया कि है कि यह राशि उसी की है, जिसे उसने अपनी कुछ अचल सपत्ति बेचने के बाद अर्जित किया था। लोकायुत पुलिस मामले की जांच कर रही है। इससे पहले एक ठेकेदार के बिल के भुगतान के एवज में पच्चीस हजार रुपए की रिश्वत राशि लेने के आरोप में लोकायुत पुलिस ने अधीक्षक ससेना और हेमाली वैद्य (लर्क बिल शाखा) को गिरतार किया था।

हुड़दंग न्यूज

हुड़दंग न्यूज (दबंग शहर की दबंग खबरें) संवाददाता की आवश्यकता है- संपर्क कीजिये-  hurdangnews@gmail.com

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button