मनोरंजन

kashmiri ears mangalsutra : जानिए आखिर क्यों कश्मीरी महिलाएं कानों में मंगलसूत्र पहनती हैं

kashmiri ears mangalsutra : भारत के अलग-अलग राज्यों में शादी के अलग-अलग रीति-रिवाज हैं। इनमें से अधिकतर अनुष्ठान केवल महिलाओं के लिए ही किये जाते हैं। शादी से जुड़ी एक प्रथा यह है कि शादीशुदा  (Married ) महिला अपने गले में अपने पति के नाम का मंगलसूत्र पहनती है।

kashmiri ears mangalsutra : जानिए आखिर क्यों कश्मीरी महिलाएं कानों में मंगलसूत्र पहनती हैं
photo by social media

हालाँकि इसका बहुत धार्मिक महत्व है लेकिन अब यह फैशन बन गया है। आमतौर पर आप महिलाओं को गले में मंगलसूत्र पहने हुए देखते हैं। लेकिन बाजार ( Market )में आपको कंगन और अंगूठी जैसे मंगलसूत्र भी मिल जाएंगे। लेकिन इन सबके उलट कश्मीरी महिलाएं कानों में मंगलसूत्र पहनती हैं।

  • आपको बता दें कि लोग इन्हें लंबे झुमके भी मानते हैं, लेकिन इसे केवल शादीशुदा कश्मीरी महिलाएं ही पहनती हैं और इसे देझुर कहा जाता है।

kashmiri ears mangalsutra : क्‍या होता है डेजहूर?

kashmiri ears mangalsutra : कश्मीरी पंडित परिवारों की विवाहित महिलाएं देजाहूर पहने नजर आती हैं। इसे ओथ भी कहा जाता है और यह एक बढ़िया सोने की चेन होती है जिसमें एक लॉकेट लटका होता है। दरअसल, शादी ( Wedding ) के दौरान कश्मीरी महिलाएं अथुर पहनती हैं, जो एक लाल रंग का धागा होता है। शादी के बाद इसे बदल दिया जाता है और इसकी जगह सोने की चेन पहना दी जाती है।

kashmiri ears mangalsutra : जानिए आखिर क्यों कश्मीरी महिलाएं कानों में मंगलसूत्र पहनती हैं
photo by social media

kashmiri ears mangalsutra : देजहूर से जुड़ी परंपराएँ क्या हैं?

देजहुर में पहने जाने वाले लॉकेट हमेशा षटकोणीय आकार के होते हैं। इसमें शिव और पार्वती को दर्शाया गया है, जो शुभ विवाह का प्रतीक है। आमतौर पर कश्मीरी महिलाएं देजाहू को कानों के अंदर छेद कर पहनती हैं,

  • लेकिन अब कई महिलाएं इसे झुमके के रूप में पहनती हैं। ऐसा कहा जाता है कि शादीशुदा महिलाएं इसे कभी भी अपने कानों से नहीं हटाती हैं। भले ही उसका पति मर जाए फिर भी उसे इसे पहनना पड़ता है।

अब तो कई डिजाइन फैशन में आ गए हैं। सिर्फ साधारण चेन ही नहीं, अब इसमें डिजाइनर पेंडेंट भी नजर आने लगे हैं। बाजार में आपको देजहुर के कई फैंसी डिजाइन मिल जाएंगे। आप इन्हें ईयररिंग्स ( Earrings ) के साथ और अलग-अलग दोनों तरह से कैरी कर सकती हैं।

kashmiri ears mangalsutra : जानिए आखिर क्यों कश्मीरी महिलाएं कानों में मंगलसूत्र पहनती हैं
photo by social media

kashmiri ears mangalsutra : कश्मीरी महिलाएं कानों में मंगलसूत्र क्यों पहनती हैं?

  • kashmiri ears mangalsutra : अतहर हमेशा लड़की को उसके ससुराल वालों द्वारा दिया जाता है और फिर उसे उसके पति द्वारा पहनाया जाता है। बाद में, यह दुल्हन की पसंद है कि उसे कब अथुर को सोने में रखना है। हालाँकि, महिलाएं  (Woman ) शादी के बाद एक साल तक केवल अथुर पहनती हैं और फिर देजाहुर पहनती हैं।

यदि कोई महिला चाहे तो किसी भी शुभ अवसर पर देवजूर को बदल कर दूसरा दिनजूर पहन सकती है। हालाँकि, अब कई कश्मीरी महिलाएँ गले में काले मोतियों वाला मंगलसूत्र  (Mangalsutra )पहनना पसंद करती हैं, लेकिन कुछ महिलाएँ अभी भी इस परंपरा का पालन करती हैं।

Also Read –  Bridal Mehndi Design : मेहंदी की ये खूबसूरत डिज़ाइन ब्राइडल के हाथो पर खूब जचेगी

सुलेखा साहू

समाचार संपादक @ हुड़दंग न्यूज (दबंग शहर की दबंग खबरें)समाचार / लेख / विज्ञापन के लिए संपर्क कीजिये-  hurdangnews@gmail.com

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button