मध्यप्रदेश

SATNA – ऑक्सीजन कंंसट्रेटर के नाम पर लाखो की धोखा धड़ी

कोरोना काल के दूसरे फेज में बढते संक्रमण के बीच मदद के नाम पर जालसाज सक्रिय हैं, सोशल मीडिया में जीवन के लिए जरूरी दवाइयां एवं उपकरण उपलब्ध कराने के नाम पर ठगी की जा रही है। एक ऐसा ही मामला सतना में सामने आया है। जालसाजों ने पुणे और गुड़गांव के युवक को आॅक्सीजन कंसंटेÑटर उपलब्ध करने के नाम पर डेढ़ लाख रुपए ठग लिए। पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जबकि सरगना समेत दो आरोपी फरार चल रहे हैं।

डेढ़ लाख रुपए में डील फाइनल होने पर युवक के द्वारा जालसाजों के द्वारा दिए गए बैंक खाते में 1 लाख 50 हजार रुपए आॅनलाइन जमा करा दिए गए। रुपए जमा कराए जाने के बाद भी आॅक्सीजन कंसंटेÑटर तय समय में न मिलने पर युवक ने मोबाइल पर सम्पर्क किया, नम्बर बंद मिला। संदेह होने पर युवक ने पुलिस अधीक्षक धर्मवीर सिंह से मदद मांगी। मोबाइल नम्बर और बैंक खाते की जांच के उपरांत पुलिस ने पाया कि युवक के साथ धोखाधड़ी की गई है। लिहाजा पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर कोलगवां पुलिस ने जालसाजो के विरुद्ध धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज किया गया। दो बैेंक खातों में लाखों का ट्रांजेक्शन आॅक्सीजन कंसंटेÑटर उपलब्ध कराने के नाम पर जालसाजी किए जाने का मामला सामने आने पर कोलगवां पुलिस और साइबर सेल के द्वारा जांच शुरू की गई। जांच में पाया गया कि जालसाजो के द्वारा सुनियोजित तरीके से महामारी के दौरान मरीजों और उनके परिजनों को ठगने के लिए सोशल मीडिया में ग्रुप बनाकर उन्हें झांसे में लिया गया। जांच में तथ्य मिले हैं कि कोरोना काल में जालसाजो के द्वारा दो बैंक खातों में लाखों रुपए का ट्रांजेक्शन किया गया है। इस मामले में कोलगवां पुलिस ने शुभम चौरसिया पिता अमरनाथ चौरसिया 27 वर्ष निवासी सिद्धार्थ नगर, शुभम सोनी पिता दीपक सोनी 24 वर्ष निवासी सिंधी कैम्प, अक्षय बलेचा पिता प्रेम बलेचा 24 वर्ष निवासी जीवन ज्योति कॉलोनी को गिरफ्तार कर लिया है। कोलगवां पुलिस ने बताया कि मुख्य आरोपी भरत बलेचा निवासी जीवन ज्योति कालोनी और मिक्की सरदार पिता हरविंदर सिंह निवासी चाणक्यपुरी कालोनी फरार चल रहे हैं जिनकी तलाश में संभावित जगहों पर छापेमारी की जा रही है।

हुड़दंग न्यूज

हुड़दंग न्यूज (दबंग शहर की दबंग खबरें) संवाददाता की आवश्यकता है- संपर्क कीजिये-  hurdangnews@gmail.com

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button