मनोरंजन

Marathi Mangalsutra : मराठी मंगलसूत्र के खूबसूरत डिज़ाइन देखें और इसके महत्त्व को जाने

Marathi Mangalsutra : हिंदू धर्म में शादी को लेकर कई रीति-रिवाज अपनाए जाते हैं। इनका अलग-अलग महत्व  (Importance) है. लेकिन कुछ रीति-रिवाज ऐसे होते हैं जो दो लोगों की भावनाओं को जोड़ते हैं।

Marathi Mangalsutra : मराठी मंगलसूत्र के खूबसूरत डिज़ाइन देखें और इसके महत्त्व को जाने
photo by social media

मंगलसूत्र पहनने की रस्म भी बेहद खास होती है। हर राज्य में इसका महत्व अलग-अलग बताया जाता है, इतना ही नहीं हर राज्य में मंगलसूत्र  (Mangalsutra)  की रचना भी अलग-अलग होती है। लेकिन मंगलसूत्र का मतलब होता है दो लोगों को एक मंगलसूत्र से बांधना।

  • मंगलसूत्र के बारे में हमने कई बार बात की है और हर बार हमने मंगलसूत्र में कुछ अलग भिन्नता या महत्व पाया और आपको इसकी खास बातें बताईं, आज हम आपको मराठी मंगलसूत्र के बारे में बताएंगे।

मराठी भाषा में मंगलसूत्र को बहुत महत्व दिया जाता है। आज हम आपको कुछ लेटेस्ट मराठी मंगलसूत्र डिजाइन और उनसे जुड़ी कुछ खास बातें बताएंगे।

Marathi Mangalsutra : मराठी मंगलसूत्र कैसा दिखता है?

मराठी मंगलसूत्र देखने में बेहद सिंपल है। काले मोती सोने के तार में पिरोये जाते हैं। ये मोती इस बात का प्रतीक हैं कि आपके रिश्ते पर किसी की बुरी नजर न लगे। इस मंगलसूत्र में 9 मोती हैं, जो देवी दुर्गा की शक्ति के 9 रूपों का प्रतीक हैं। यह मंगलसूत्र  (Mangalsutra) महिला को पूरी शक्ति देता है, जिससे वह घर के सभी कर्तव्यों को पूरी निष्ठा से निभा सकती है।

Marathi Mangalsutra : मराठी मंगलसूत्र का क्या महत्व है?

  • इस मंगलसूत्र में 2 गोल कटोरियाँ हैं। इस बॉट को शिव और शक्ति का रूप माना जाता है। इससे मराठी मंगलसूत्र का महत्व बढ़ जाता है। ऐसा माना जाता है कि ये दो समय दो परिवारों  (families) के एक साथ आने का प्रतीक हैं। ऐसा भी कहा जाता है कि शादी न केवल दो आत्माओं  (spirits) का मिलन है बल्कि दो परिवारों का भी एक साथ आना है।

आपको बता दें कि मराठी में मंगलसूत्र दूल्हे की ओर से आता है और इसे केवल विवाह स्थल पर ही पहनने का रिवाज है। यह पति द्वारा पत्नी को बांधा गया एक धागा है, जिसे वह कभी खुद से दूर नहीं करता।

Marathi Mangalsutra : मराठी मंगलसूत्र के खूबसूरत डिज़ाइन देखें और इसके महत्त्व को जाने
photo by social media

Marathi Mangalsutra : मराठी मंगलसूत्र कैसे पहनें?

  • मराठियों में मंगलसूत्र को आम के पत्ते पर रखकर पूजा की जाती है। सबसे पहले यह मंगलसूत्र दूल्हे द्वारा दुल्हन को पहनाया जाता है और फिर पूजा शुरू होती है। इसलिए मंगलसूत्र को मराठी लोगों में बहुत पवित्र माना जाता है। हालाँकि, अब आपको मराठी मंगलसूत्रों में भी कई डिज़ाइन  (Design  )देखने को मिलेंगे, लेकिन हर मंगलसूत्र में आपको 2 बॉटियाँ ज़रूर दिखेंगी।

आपने अक्सर देखा होगा कि मंगलसूत्र में काले मोती लगे होते हैं। लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि मंगलसूत्र में काले मोतियों का ही इस्तेमाल क्यों किया जाता है, इसके कई रंग होते हैं। आपको बता दें कि इन मोतियों के बिना यह धागा अधूरा माना जाता है। हिंदू मान्यता के अनुसार  (According  )यह भगवान शिव और उनकी पत्नी पार्वती के बीच बंधन का प्रतीक माना जाता है और मंगलसूत्र का सोना देवी पार्वती का प्रतीक है और काले मोती भगवान शिव का प्रतीक हैं।

Marathi Mangalsutra : मराठी मंगलसूत्र के खूबसूरत डिज़ाइन देखें और इसके महत्त्व को जाने
photo by social media

Marathi Mangalsutra : मंगलसूत्र पहनने के फायदे

  • Marathi Mangalsutra : ऐसा माना जाता है कि मंगलसूत्र में दैवीय शक्तियां होती हैं। सोने और काले मोती का मेल पति-पत्नी को किसी भी बुरी ताकतों से बचाता है। ऐसा कहा जाता है कि जब एक महिला  (Woman ) रोजाना मंगलसूत्र पहनती है, तो वह अपने पति के साथ अपने रिश्ते को सभी बुराइयों से बचाती है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि मंगलसूत्र पहनने से स्वास्थ्य लाभ भी होते हैं? हा ये तो है।  

आपको बता दें कि ज्योतिष शास्त्र के अनुसार  (According )  मंगलसूत्र वैवाहिक जीवन में सुख और शांति लाता है। इसके साथ ही क्योंकि मंगलसूत्र सोने का बना होता है और सोने के प्रभाव से बृहस्पति और बृहस्पति ग्रह वैवाहिक जीवन में सुख और धन के लिए जाने जाते हैं। इसलिए शादीशुदा महिला को मंगलसूत्र पहनना चाहिए।

Also Read –  Bridal Mehndi Design : मेहंदी की ये खूबसूरत डिज़ाइन ब्राइडल के हाथो पर खूब जचेगी

सुलेखा साहू

समाचार संपादक @ हुड़दंग न्यूज (दबंग शहर की दबंग खबरें)समाचार / लेख / विज्ञापन के लिए संपर्क कीजिये-  hurdangnews@gmail.com

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button