मध्यप्रदेश

कोरोना काल में बढ़ी ऑनलाइन ठगी, लाखों की चपत

राजधानी में कोरोना काल के बीच ऑनलाइन ठगी करने वाले शातिर जालसाजों ने करीब 18 लोगों को लाखों रुपए की चपत लगा दी। किसी को नौकरी दिलाने तो किसी को लोन दिलाने के नाम पर भी रकम हड़पी गई है। इतना ही नहीं फोन पे और पेटीएम से भी लोगों की रकम खाते से उड़ाई गई है। अलग-अलग थाना क्षेत्रों में सायबर सेल के प्रतिवेदन पर पुलिस ने धोखाधड़ी समेत अन्य धाराओं के तहत केस दर्ज कर लिया है। हालांकि पुलिस ने अभी तक एक भी मामले का खुलासा नहीं किया है।  ऐशबाग पुलिस ने बताया कि 31 वर्षीय लक्ष्मी बाई नरेंद्र देव नगर में रहती हैं। 12 सितंबर 2020 को शातिर जालसाज ने उनके फोन पे से 45997 रुपए निकाल लिए थे। इसके अलावा गोविंद गार्डन में रहने वाली अंजू खरे ने आॅनलाइन एक गाड़ी देखी थी। पसंद आने पर रकम संबंधित व्यक्ति के खाते में डाल दी थी, लेकिन उन्हें गाड़ी नहीं मिली और पैसे भी वापस नहीं मिले।  ऐशबाग में अनुराग पंथी नवीन नगर में रहते हैं। 2 फरवरी को फोन आया कि उन्हें नौकरी मिल जाएगी, लेकिन उसके लिए उन्हें 50540 खाते से ट्रांसफर करने होंगे। पैसे ट्रांसफर करने के बाद फोन बंद मिला। कोतवाली पुलिस ने बताया कि 20 वर्षीय चिंटी साहू कायस्थपुरा में रहते हैं। 1 जुलाई 2020 को उनके खाते से जालसाजों ने 16000 रुपए निकाल लिए थे। इसके अलावा मयंज जैन के खाते से भी बदमाशों ने धोखाधड़ी कर बैंक खाते से 5000 रुपए निकाल लिए थे।  पुलिस ने बताया कि अनिल सक्सेना राम मंदिर के पास रहते हैं। शातिर जालसाजों ने उनके क्रेडिट कार्ड से रकम निकाल ली थी। कांग्रेस नगर में रहने वाले सैय्यद साजिद अली के पास दो नंबरों से फोन आया और खाते से पैसे निकल गए। 

हुड़दंग न्यूज

हुड़दंग न्यूज (दबंग शहर की दबंग खबरें) संवाददाता की आवश्यकता है- संपर्क कीजिये-  hurdangnews@gmail.com

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button