भोपालमध्यप्रदेश

MP में स्कूल खोलने का विरोध : भोपाल में कई अभिभावक स्कूल पहुंच चुके हैं; पालक संघ आज कोर्ट में करेगा अपील, मंत्री ने साधी चुप्पी

मध्य प्रदेश में स्कूल खोलने को लेकर विरोध शुरू हो गया है. एक हफ्ते पहले भोपाल के कार्मेल कॉन्वेंट स्कूल ने ऑनलाइन के साथ-साथ ऑफलाइन कक्षाओं में बच्चों की उपस्थिति अनिवार्य कर दी थी। विरोध में गुरुवार सुबह बड़ी संख्या में अभिभावक स्कूल पहुंचे। अभिभावकों ने भी स्कूल प्राचार्य से मुलाकात की। स्कूल प्रबंधन ने अभिभावकों से दो दिन का समय मांगा है।

इसके बाद सभी पेरेंट्स ने स्कूल प्रबंधन को उनके साइन किए एक-एक फॉर्म स्कूल को सौंपे हैं। इसी तरह प्रदेश के अन्य शहरों से भी विरोध प्रदर्शन शुरू हो गए हैं। इधर, जागृत पालक संघ मध्य प्रदेश भी आज इस मामले में हाईकोर्ट जबलपुर में एक याचिका दायर करने जा रहा है. इस बीच इस मामले में अब स्कूल शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार ने चुप्पी साध रखी है.

भोपाल के भेल कार्मेल कॉन्वेंट स्कूल में गुरुवार सुबह बड़ी संख्या में केजी से लेकर 5वीं तक के बच्चों के अभिभावक पहुंचे. उन्होंने पहले से एक फॉर्म तैयार किया था। स्कूल आने वाले अभिभावकों ने अलग-अलग फॉर्म भरकर ऑनलाइन क्लास जारी रखने का अनुरोध किया। इस पर प्राचार्य ने अभिभावकों से दो दिन का समय मांगा है। यानी सोमवार तक अभिसित पर फैसला आ सकता है।

संघ अध्यक्ष एवं अधिवक्ता चंचल गुप्ता ने कहा कि सरकार के स्कूल खोलने के निर्देश स्पष्ट नहीं होने के कारण संघ आज याचिका दायर करेगा. उन्होंने बताया कि स्कूल फीस का मामला पहले से ही उच्च न्यायालय में विचाराधीन है। अब फैसला उन्हीं पर छोड़ा गया है। ऐसे में सरकार ने स्कूल फीस और स्कूल खोलने को लेकर अस्पष्ट निर्देश दिए हैं. हम उनके निर्देश के खिलाफ कोर्ट जा रहे हैं. एक तरफ सरकार ने अभिभावकों की अनुमति मांगी है तो दूसरी तरफ फीस और खोलने को लेकर स्कूल को सारे अधिकार दिए हैं. इसके साथ, माता-पिता की अनुमति मायने नहीं रखती है।

इसको लेकर अभिभावक प्रदर्शन कर रहे हैं

*शासन को माता-पिता की अनुमति की आवश्यकता होती है, लेकिन इसे सभी स्कूलों को कक्षाएं संचालित करने के लिए दिया जाता है।
*शासन ने ऑनलाइन कक्षाओं को लेकर स्पष्ट निर्देश नहीं दिए हैं।
*स्कूल नहीं आने वाले बच्चों के पास कोई चारा नहीं है।
*स्कूलों द्वारा ऑफलाइन कक्षाओं को अनिवार्य कर दिया गया है।
*बच्चों के संक्रमित होने पर किसी की जिम्मेदारी तय नहीं होती है। स्कूल ने यह संदेश अभिभावकों को भेजा है। इसने ऑनलाइन और ऑफलाइन      कक्षाओं में भाग लेना अनिवार्य कर दिया है।

 

बड़ी खबर मध्यप्रदेश एवं छत्तीसगढ़ की सभी छोटी-बड़ी खबरें के लिए 

हुड़दंग न्यूज

हुड़दंग न्यूज (दबंग शहर की दबंग खबरें) संवाददाता की आवश्यकता है- संपर्क कीजिये-  hurdangnews@gmail.com

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button