देशव्यापार

Reliance Capital को दीवालिया घोषित करने की प्रक्रिया शुरू

नई दिल्ली। इन दिनों कारोबार में अनिल अंबानी के दिन ठीक नहीं चल रहे हैं।

उनकी अगुवाई वाले रिलायंस समूह की कर्ज में डूबी कंपनी Reliance Capital Ltd. को दीवालिया घोषित करने के लिए भारतीय रिजर्व बैंक ने प्रक्रिया शुरू कर दी है।

Reliance Capital को दीवालिया घोषित करने की प्रक्रिया शुरू

इसके लिए आरबीआई ने राष्ट्रीय कंपनी विधि न्यायाधिकरण एनसीएलटी से इजाजत मांगी है।

गुरुवार को RBI ने कहा कि उसने Reliance Capital Ltd. को दिवालिया घोषित करने के लिए एनसीएलटी की मुंबई पीठ के सामने दिवाला और दिवालियापन संहिता आईबीसी की कई अलग-अलग धाराओं में सीआईआरपी शुरू करने के लिए एक आवेदन दायर किया है।

गौरतलब है कि एनसीएलटी के पास दायर किये गए आरबीआई के आवेदन के बाद से Reliance Capital पर अंतरिम रोक लग जाएगी।

कंपनी पर कर्ज:

Reliance Capital ने पिछले साल सितंबर में सालाना आम बैठक में शेयरधारकों को बताया था कि कंपनी के ऊपर एकीकृत रूप से 40,000 करोड़ रुपये का कर्ज है। जानकारी के मुताबिक कंपनी को चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में 1,156 करोड़ रुपये का एकीकृत नुकसान हुआ। वहीं उसकी आय 6,001 करोड़ रुपये रही थी। इसके अलावा वित्तीय वर्ष 2020-21 में कंपनी को 9,287 करोड़ रुपये का नुकसान और कुल आय 19,308 करोड़ रुपये रही थी।

कंपनी पर आरोप:

गौरतलब है कि 29 नवंबर को Reliance Capital Ltd. के बोर्ड को RBI ने भंग कर दिया था। इसके बाद अपनी तरफ से बैंक ऑफ महाराष्ट्र के पूर्व कार्यकारी निदेशक नागेश्वर राव को इसका प्रशासक नियुक्त किया था। इसके अगले ही दिन एक तीन सदस्यीय पैनल भी गठन किया गया जो प्रशासक की मदद करेगा। बता दें कि अनिल अंबानी की अगुआई वाली आरसीएल पर कर्ज भुगतान में चूक के साथ-साथ कंपनी चलाने से जुड़े कई गंभीर आरोप हैं।

बता दें कि इससे पहले, रिजर्व बैंक ने श्रेई ग्रुप की एनबीएफसी तथा दीवान हाउसिंग फाइनेंस कॉरपोरेशन (डीएचएफएल) के खिलाफ इसी प्रकार की कार्यवाही शुरू की थी। डीएचएफएल के खिलाफ कार्यवाही पूरी हो चुकी है जबकि श्रेई का मामला अभी लंबित है। बता दें कि 1986 में अस्तित्व में आई रिलायंस कैपिटल का कंट्रोल अनिल अंबानी के पास पारिवारिक बंटवारे में 2005 में आया था।

हुड़दंग न्यूज

हुड़दंग न्यूज (दबंग शहर की दबंग खबरें) संवाददाता की आवश्यकता है- संपर्क कीजिये-  hurdangnews@gmail.com

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button