उत्तर प्रदेश

जयंत बोले- रालोद सपा गठबंधन में कौन कहां से लड़ेगा चुनाव, अखिलेश यादव से हाे गई है चर्चा

रालोद मुखिया जयंत चौधरी ने कहा कि समाजवादी पार्टी से हमारा साथ लंबा चलेगा। जहां सोच और समझ होती है, वहां गठबंधन भी लंबा चलता है। उन्होंने कहा कि गठबंधन यूपी की सभी 403 सीटों पर मिलकर चुनाव लड़ेगा। मीडिया से बातचीत करते हुए जयंत ने कहा कि अभी सीटों के बारे में कोई बात नहीं हुई है। सवाल, 30, 32, 35, 37 सीटों का नहीं है। सवाल प्रदेश की 403 सीटों का है।

जयंत चौधरी ने कहा कि अखिलेश यादव और हम बैठे हैं, बातचीत हुई है, कहां किसको लड़ाना है और कौन उचित रहेगा, इस बारे में चर्चा हुई है। अखिलेश यादव के साथ पहले भी काम किया है। जब एक सोच को लेकर चलते हैं तो कामयाबी मिलती है। किसी भी गठबंधन के लिए वक्त लगता है। बहुत से कार्यकर्ता नाराज होते हैं, उनको मनाना पड़ता है। और भी बहुत सी बातें तय की जाती हैं। सीटों की घोषणा अभी नहीं हो रही है। जयंत ने कहा कि भाजपा और उनके मध्य कोई बात नहीं हुई है। न उन्होंने एप्रोच किया और न मैंने। किसान आंदोलन के बाद तो एप्रोच का सवाल ही नहीं उठता है। किसानों के साथ अन्याय हुआ। रालोद मुखिया ने कहा कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश को जाटलैंड कहना गलत है। यह क्षेत्र किसानों का है।

सपा-रालोद में सीटों के बंटवारे पर कोई समस्या नहीं: अखिलेश
सपा-रालोद की ओर से मेरठ के दबथुवा में आयोजित परिवर्तन संकल्प रैली में भले ही रालोद अध्यक्ष जयंत चौधरी ने गठबंधन की बात कही, लेकिन सीटों का कोई ऐलान नहीं हुआ। रैली में सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि सपा-रालोद में सीटों के बंटवारे पर कोई समस्या नहीं है। वहीं रालोद अध्यक्ष जयंत चौधरी ने कहा कि गठबंधन सभी 403 सीटों पर चुनाव लड़ेगा।

रैली के बाद मंच पर मीडिया से बातचीत में अखिलेश और जयंत से जब गठबंधन और सीटों की घोषणा को लेकर सवाल किया गया तो अखिलेश यादव ने कहा कि पहले इस तरह के बदलाव की बात नहीं थी। पहले तीन कृषि कानून की बात नहीं थी। जयंत बोले-क्या पता, सब कुछ आपस में तय हो गया हो। इस पर अखिलेश यादव ने कहा कि सीटों के बंटवारे की कोई समस्या नहीं है। अब सारा माहौल बदल चुका है। जनता को पहले उम्मीद थी कि डबल इंजन की सरकार बेहतर काम करेगी। जनता और किसानों को अपमानित होना पड़ा। रोजगार के अवसर खत्म हुए। पलायन और मथुरा के मंदिर का मामला उठाए जाने पर जयंत चौधरी ने कहा कि यह कोई मुद्दा ही नहीं है। मथुरा का एक आदमी इसको लेकर सामने नहीं आया। अखिलेश यादव ने कहा कि अब पलायन कोई मुद्दा ही नहीं। पलायन को लेकर जो एक सूची जारी की गई थी वह फर्जी थी।

 

कॉलेज के सामने लड़की को गुलाब देने का मामला।

 

Credit : livehindustan

हुड़दंग न्यूज

हुड़दंग न्यूज (दबंग शहर की दबंग खबरें) संवाददाता की आवश्यकता है- संपर्क कीजिये-  hurdangnews@gmail.com

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button