मध्यप्रदेशसतना

Satna को मिली फ्लाई ओवर की सौगात

Satna News In Hindi : सतना शहर को नेशनल हाइवे पर 63 करोड़ 88 लाख की लागत से बने फ्लाई ओवर की सौगात मिली है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) ने शनिवार को पूर्व प्रधानमंत्री स्व. अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee) के जन्मदिन पर यह फ्लाई ओवर जनता को समर्पित किया। उन्होंने इसका नाम अटल जी के ही नाम पर रखने की घोषणा भी की। शहर के सेमरिया चौराहा पर बने तीन छोर वाले फ्लाई ओवर का लोकार्पण मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने वर्चुअली किया।

कार्यक्रम में लोक निर्माण मंत्री गोपाल भार्गव, वन मंत्री एवं सतना जिले के प्रभारी मंत्री डॉ कुंवर विजय शाह, जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट, राज्यमंत्री लोक निर्माण सुरेश धाकड़ एवं राज्यमंत्री नगरीय विकास ओपीएस भदौरिया भी वर्चुअली शामिल हुए।

जबकि राज्यमंत्री रामखेलावन पटेल, सांसद गणेश सिंह, जिलाध्यक्ष नरेंद्र त्रिपाठी, योगेश ताम्रकार, पूर्व मेयर ममता पांडेय, पूर्व स्पीकर अनिल जायसवाल, कलेक्टर अनुराग वर्मा, एसपी धर्मवीर सिंह, सीईओ डॉ परीक्षित राव झाड़े, निगमायुक्त तन्वी हुड्डा, पूर्व महापौर श्रीमती विमला पांडेय स्थानीय आयोजन स्थल पर उपस्थित रहे।

नौगांव-सतना-बेला मार्ग के कि.मी 163/10 में सतना शहर के सेमरिया चौक पर बीते 5 वर्ष से निर्माणाधीन रहे इस फ्लाई ओवर की लागत 63 करोड़ 88 लाख 76 हजार रुपये है। हालांकि शुरुआत में यह लागत लगभग साढ़े 42 करोड़ के ही आसपास थी। सेमरिया चौराहा पर स्थापित डॉ अंबेडकर की प्रतिमा के बचाव के लिये ब्रिज का एलाइनमेंट भी बदला और इसकी लागत भी लगभग 22 करोड़ रुपये बढ़ी।

सीएम ने कहा : Satna तो राम को भी प्रिय

फ्लाई ओवर के लोकार्पण के अवसर पर सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि सतना मध्य प्रदेश का पुराना और ऐतिहासिक नगर है। सतना तो भगवान राम को भी प्रिय रहा है, रामवन, राम वन गमन पथ सब सतना में ही है। इसका विकास यहां की संस्कृति और परंपराओं को ध्यान में रखते हुए किया जाएगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा, मैं सतना आऊंगा और यहां के लोगों के साथ बैठ कर सतना के विकास की योजना बनाऊंगा।

Satna को आधुनिक शहर का स्वरुप दिया जायेगा

मुख्यमंत्री श्री चौहान (Shivraj Singh Chouhan) ने रिमोट का बटन दबाकर वर्चुअल रुप से फ्लाई ओवर ब्रिज का लोकार्पण किया। उन्होने इस अवसर पर कहा कि सतना को आधुनिक शहर बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे। सतना को मेडीकल कॉलेज(Medical College Satna), स्मार्ट सिटी (Smart City Satna), पेयजल, शिक्षा जैसे अनेक क्षेत्रों में अनेक उपलब्धियां मिली हैं। सतना शहर के यातायात और सौन्दर्यीकरण के लिये फ्लाई ओवर ब्रिज विकास में मील का पत्थर साबित होगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि सतना को औद्योगिक दृष्टि, शैक्षणिक सुविधाओं एवं स्मार्ट सिटी की योजनाओं से आगें बढ़ाया जायेगा।

अटल जी के नाम पर होगा फ्लाई ओवर

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने फ्लाई ओवर का नामकरण पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee) में नाम पर किये जाने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि यह सौगात महान राष्ट्र नायक और वैश्विक नेता अटल जी के जन्मदिन पर मिली है, इसलिए इसका नाम अटल जी के नाम पर होना उचित है। इस मौके पर सांसद गणेश सिंह ने मुख्यमंत्री श्री चौहान से फ्लाई ओवर ब्रिज का नाम अटल जी के नाम पर रखने की मांग की थी, जिसे उन्होंने स्वीकार कर अपनी सहमति दी।

फ्लाई ओवर के लोकार्पण के पूर्व पंचायत एवं ग्रामीण विकास राज्यमंत्री श्री रामखेलावन पटेल ने सांसद श्री गणेश सिंह के साथ कार्यक्रम स्थल पर भारत माता, पंडित दीनदयाल उपाध्याय, पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी के चित्र के समक्ष दीप प्रज्वलन कर स्थानीय कार्यक्रम का शुभारंभ किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा नव-निर्मित फ्लाई ओवर ब्रिज के लोकार्पण किए जाने के बाद पुल के सर्किट हाउस वाले छोर पर विधिवत रूप से शिला-पट्टिका का पूजन कर अनावरण किया गया।

राज्यमंत्री श्री पटेल ने इस मौके पर कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री स्व. अटल बिहारी वाजपेयी के जन्मदिन पर मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सतना शहर के लिए फ्लाई ओवर ब्रिज की सौगात दी है। इससे सतना शहर की यातायात और ट्रैफिक व्यवस्था में काफी सुधार और सहूलियत होगी। सतना-रीवा सड़क (Satna-Rewa-Satna) के व्यस्ततम मार्ग को जाम के झंझट से मुक्ति मिलेगी। उन्होंने फ्लाई ओवर ब्रिज की स्थापना और स्वीकृति दिलाने में पूर्व विधायक शंकरलाल तिवारी के योगदान को सराहनीय बताया।

स्थानीय कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए सांसद गणेश सिंह ने कहा कि आज का दिन सबके लिए अत्यंत महत्वपूर्ण है। पूर्व प्रधानमंत्री स्व. अटल बिहारी वाजपेयी के जन्मदिन के अवसर पर सतना शहर को यातायात व्यवस्था के लिए फ्लाई ओवर ब्रिज की सौगात मिली है। उन्होंने कहा कि सतना शहर के व्यस्ततम यातायात और सड़क दुर्घटनाओं को देखते हुए वर्ष 2016 में फ्लाई ओवर और बायपास स्वीकृत हुआ।

फ्लाई ओवर और बाईपास के निर्माण में कोरोना काल एवं अन्य कारणों से विलंब हुआ है। लेकिन अब बाईपास का काम भी अप्रैल 2022 तक पूरा कर लिया जाएगा। उन्होंने स्मार्ट सिटी (Smart City Satna) की विकास योजनाओं की जानकारी में बताया कि स्मार्ट सिटी में अब पूरे नगर निगम क्षेत्र को शामिल किया गया है।

सांसद श्री सिंह ने कहा कि मेडिकल कॉलेज सतना (Medical College Satna) का निर्माण अंतिम चरण में है। वर्ष 2022-23 का शैक्षणिक सत्र सतना मेडिकल कॉलेज में प्रारंभ कराया जाएगा। इसी तरह बरगी नहर से सतना में नर्मदा जल लाने के प्रोजेक्ट में तेजी से काम हो रहा है। वर्ष 2023 तक सतना में बरगी का पानी लाने का लक्ष्य रखा गया है। सांसद श्री गणेश सिंह ने सतना शहर में प्रत्येक रविवार को जन सहयोग और जनभागीदारी से स्वच्छता अभियान चलाने की सहमति नागरिकों से प्राप्त की।

हुड़दंग न्यूज

हुड़दंग न्यूज (दबंग शहर की दबंग खबरें) संवाददाता की आवश्यकता है- संपर्क कीजिये-  hurdangnews@gmail.com

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button