क्राईम न्यूज

स्कूल के प्रिंसिपल और 3 शिक्षकों ने किया गैंगरेप, महिला टीचर बना रही थीं वीडियो; छात्रा की बात सुन पिता रह गए दंग; केस दर्ज

राजस्थान में स्कूल की एक छात्रा ने जब अपने पिता को बताया कि उसके स्कूल के प्रिंसिपल और तीन शिक्षकों ने उसके साथ गैंगरेप किया तब उनके होश उड़ गये। मामला अलवर जिले का है। यहां के एक सरकारी स्कूल में 10वीं क्लास में पढ़ने वाली छात्रा का आरोप है कि स्कूल की ही दो अन्य महिला शिक्षिकाओं ने इस घिनौने कृत्य का वीडियो भी बनाया।

बताया जा रहा है कि लड़की के पिता पेशे से एक ट्रक ड्राइवर हैं और उसकी मां मूक-बधिर हैं। लड़की के पिता काम के सिलसिले में अक्सर बाहर रहते हैं। हाल ही में जब वो अपने घर लौटे तो उन्हें पता चला कि उनकी बेटी ने स्कूल जाना छोड़ दिया। पिता ने जब अपनी बेटी से इस संबंध में बातचीत की तब एक खौफनाक वारदात का खुलासा हुआ।

महिला टीचर बना रही थीं वीडियो
छात्रा ने बताया कि स्कूल की दो महिला टीचर्स ने उसे मुफ्त में ड्रेस, कॉपी और किताब देने के लालच के साथ ही उसकी फीस भरने का लालच दिया। बाद में वो उसे स्कूल के पास ही रहने वाले एक टीचर के घर ले गई। वहां स्कूल के प्रिंसिपल और दो अन्य टीचर पहले से शराब पी रहे थे। वहां जाने के बाद एक महिला टीचर ने उसके कपड़े उतरवाये। बाद में सभी चार पुरूष शिक्षकों ने उसके साथ गैंगरेप किया। इस दौरान दोनों महिला टीचर वीडियो बनाती रही।

फेल करने की धमकी
लड़की का कहना है कि जब उसने शिक्षकों के इस काम का विरोध किया तो उसे फेल करने और वीडियो वायरल करने की धमकी दी गई। उसके कुछ दिन बाद फिर से महिला टीचर के पति और अन्य ने उसके साथ गैंगरेप किया। इस मामले में पीड़िता ने अपने पिता के सहयोग से थाने में केस भी दर्ज करवाया है।

तीन अन्य छात्राओं ने भी दर्ज कराया केस
पुलिस के मुताबिक इस छात्रा के अलावा तीन और छात्राओं ने भी इस स्कूल के शिक्षकों के खिलाफ छेड़छाड़ करने का मामला दर्ज कराया है। इनमें एक छात्रा छठी, दूसरी चौथी और तीसरी छात्रा तीसरी कक्षा में पढ़ती है। बता दें कि पिछले साल इसी स्कूल के एक अन्य शिक्षक के खिलाफ भी इसी तरह का मामला दर्ज कराया गया था जिसमें उनकी गिरफ्तारी भी हुई थी।

 

Credit : livehindustan

हुड़दंग न्यूज

हुड़दंग न्यूज (दबंग शहर की दबंग खबरें) संवाददाता की आवश्यकता है- संपर्क कीजिये-  hurdangnews@gmail.com

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button