अन्यभोपाल

आगजनी में मृत नवजात का 13 दिनों बाद सौंपा शव, कांग्रेस ने किया चक्काजाम

बीते 8 नबंवर को भोपाल के हमीदिया में स्थित कमला नेहरू अस्पताल के बच्चा वार्ड में हुई आगजनी की घटना के पीड़ितों की संख्या बढ़ती जा रही है। हाल ही में एक ओर मामला अस्पताल प्रबंधन द्वारा मानवता को शर्मसार कर देने वाला सामने आया है।

प्रबंधन ने आगजनी की घटना में झुलसी बच्ची को उस समय जिंदा बताकर 13 दिन तक परिवार को गुमराह किया तथा बाद शव सौंपकर किनारा कर लिया।

परिजनों को पता तब चला जब बच्ची के शव को झुलसा हुआ देखा। रविवार को यह मामला सामने आने के बाद कांग्रेस ने परिजनों के साथ बच्ची का शव सड़क पर रखकर चक्काजाम कर दिया। जानकारी के मुताबिक गैरतगंज के वार्ड 5 में रहने वाले नवीन विश्वकर्मा पत्नी गायत्री ने जिला चिकित्सालय रायसेन में बीती 16 अक्टूबर 2021 को पुत्री को जन्म दिया था।

आगजनी में मृत नवजात का 13 दिनों बाद सौंपा शव, कांग्रेस ने किया चक्काजाम

नवजात बच्ची के कम वजन के चलते उसे जिला चिकित्सालय से तत्काल भोपाल के कमला नेहरू अस्पताल में रेफर किया गया था। जहां नवजात को आईसीयू में रखकर इलाज किया जा रहा था। 8 नवंबर की रात्रि में कमला नेहरू के जिस वार्ड में भीषण आग लगी उसमें यह नवजात बच्ची भी भर्ती थी। आगजनी में कई बच्चो की जान गई। वहीं धुंए में भी कई बच्चों का दम घुटा। परन्तु घटना के सही कारणों का पता नही चल पाया।

नवजात के पिता नवीन विश्वकर्मा बताते है कि उनकी नवजात बच्ची भी आगजनी में बुरी तरह झुलस गई तथा धुंए से उसका दम घुट गया। परन्तु अस्पताल प्रबंधन ने नवजात के स्वस्थ होने की सूचना उन्हें देकर उसके उपचाररत होने का हवाला दिया। नवीन ने बच्ची को देखने का कहा तो उन्हें मना कर दिया गया। बाद में ज्यादा कहने पर उन्होंने पट्टियों में लिपटी बच्ची को आईसीयू में कांच में रखा हुआ दूर से बता दिया।

रविवार को इस मामले की जानकारी मिलते ही जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष एवं पूर्व विधायक देवेंद्र पटेल गैरतगंज पहुंच गए तथा उनके साथ कांग्रेस महामंत्री मदन राजपूत, सुनील श्रीवास्तव, देवेंद्र पटेल कस्बा, एहतेशाम बेग, खेमचंद चौरसिया, मोहन जाटव, राजदीप जैन, समा हसन सहित दर्जनों कांग्रेस कार्यकतार्ओं के साथ भोपाल सागर मुख्य सड़क मार्ग पर बच्ची के परिजनों के साथ शव को लेकर चक्काजाम कर दिया गया।

कांग्रेस ने तत्काल बच्ची के शव का पोस्टमार्टम कराने, दोषियों पर कार्रवाई एवं परिजनों को मुआवजा दिए जाने की मांग प्रशासन से की। उन्होंने बीजेपी सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।उनका आरोप था कि सरकार इस आगजनी की घटना में मरने वाले बच्चो के आंकड़े छुपाने के काम कर रही है।

भाजयुमो जिला उपाध्यक्ष मुकेश तिवारी से खास बात

हुड़दंग न्यूज

हुड़दंग न्यूज (दबंग शहर की दबंग खबरें) संवाददाता की आवश्यकता है- संपर्क कीजिये-  hurdangnews@gmail.com

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button