मध्यप्रदेश

खाट में गर्भवती को डाल उफनती नदी पारकर अस्पताल पहुंचे परिजन

छिंदवाड़ा। जुन्नारदेव ब्लॉक अंतर्गत सोमवार को टेकाडाना पंचायत के चिकलभाटा गांव में प्रसव पीड़ा से तड़पती एक महिला के बच्चे की मृत्यु सिस्टम की लापरवाही से उसके गर्भ में ही हो गई। सुरक्षित प्रसव के लिए पिंकी पिता अमरलाल अपनी ससुराल बैतूल से मायके चिकलभाटा आई थी।

जहां प्रसव पीड़ा होने पर अमरलाल ने जननी एक्सप्रेस को फोन लगाया। लेकिन बिना पुल की भड़कदा नदी के ऊफान पर होने से जननी एक्सप्रेस के चालक ने गांव आने से मना कर दिया। लिहाजा परिजनों ने जान जोखिम में डालकर गर्भवती को डिलेवरी के लिए खाट पर लाद कर नदी पार कराई। किसी प्रकार प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र टेकाढाना पहुंचे, तो वहां डॉक्टर और नर्स नहीं मिले। इसके बाद वहां से जननी एक्सप्रेस द्वारा उसे रामपुर स्वास्थ्य केंद्र लाया गया। लेकिन उपचार में देरी होने की वजह से महिला के गर्भ में ही बच्चे की मौत हो गई। बहरहाल पीड़िता का अस्पताल में उपचार जारी है।

हुड़दंग न्यूज

हुड़दंग न्यूज (दबंग शहर की दबंग खबरें) संवाददाता की आवश्यकता है- संपर्क कीजिये-  hurdangnews@gmail.com

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button