अन्य

यू-ट्यूब से मिला ठगी का तरीका, पैमेंट का फर्जी मैसेज भेजकर करता था ठगी

भोपाल – राजधानी की सायबर क्राइम ब्रांच पुलिस ने एक ऐसे शातिर सायबर जालसाज को गिरतार किया है जो सोने- चांदी के आभूषण खरीदकर सुनारों को उनके मोबाइल पर पैमेंट का फर्जी मैसेज भेजकर चूना लगा रहा था। आरोपी मूलरूप से सहरसा बिहार का रहने वाला स्नातक शिक्षित युवक है और फर्राटेदार अंग्रेजी बोलने के अलावा अन्य भाषाओं में भी माहिर है। खरीददारी करने के बाद आरोपी फोन-पे के माध्यम से यूआर कोड स्कैन कर ज्वैलर्स को पैमेंट का फर्जी मैसेज भेज देता था जबकि ज्वैलर्स के खाते में पैस आते ही नहीं थे। पुलिस ने आरोपी के कजे से एक मोबाइल फोन, तीन आधार कार्ड व सोने-चांदी के जेवरात समेत तीन लाख रुपए का मशरूका बरामद किया है।

एएसपी सायबर अंकित जायसवाल ने जानकारी देते हुए बताया कि भोपाल के फरियादी ज्वैलर्स ने विगत 15 जुलाई 21 को शिकायत दर्ज कराते हुए बताया कि मेरी दुकान पर सिवेश कुमार सिंह नामक व्यति ग्राहक बनकर आया था और उसने 43 हजार रुपए के आाूषण खरीदकर फोन-पे के बार कोड के माध्यम से पैमेंट किया था। बार कोड स्केन कर फर्जी तरीके से मेरे मोबाइल नंबर पर पैमेंट का टेस्ट मेसेज भेजकर कहा था कि पैमेंट हो गया है। जब वह आाूषण लेकर दुकान से चला गया तो कुछ देर बाद मैंने पैमेंट चैक किया। लेकिन खाते में पैमेंट नहीं आया था। मैंने उसके मोबाइल पर कॉल किया तो वह कॉल भी रिसीव नहीं कर रहा है। लिहाजा सायबर क्राइम पुलिस ने शिकायत के आधार पर मोबाइल नंबर का इस्तेमाल करने वाले आरोपी के खिलाफ धोखाधड़ी का प्रकरण दर्ज कर विवेचना शुरू कर दी। विवेचना के दौरान तकनीकी विश्लेषण के आधार पर पुलिस ने आरोपी सिवेश कुमार उर्फ मोहित रंजन उर्फ सोनू उर्फ अभिषेक कुमार (25) निवासी कोलार रोड गेहूंखेड़ा को गिरतार कर लिया।

हुड़दंग न्यूज

हुड़दंग न्यूज (दबंग शहर की दबंग खबरें) संवाददाता की आवश्यकता है- संपर्क कीजिये-  hurdangnews@gmail.com

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button