भोपालमध्यप्रदेश

जनजातीय गौरव दिवस – 15 नबम्बर तक टोल टेक्स में मिलेगी छूट… जानिए कैसे

भोपाल – बिरसा मुंडा की जन्मतिथि जनजातीय गौरव दिवस आनंद के प्रकटीकरण का अवसर है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी महासम्मेलन में जनजातियों के विकास और कल्याण के लिए आरंभ किए जा रहे कार्यक्रमों का शुभारंभ करेंगे। इसमें शामिल होने के लिए आने वाले वाहनों से कहीं भी टोल टैक्स नहीं लिया जाएगा। दूर से आने वाली बसों में मैकेनिक भी साथ रहेंगे ताकि रास्ते में किसी प्रकार की कोई परेशानी न आए।

वहीं, बसों के साथ एंबुलेंस भी चलेगी। यह बात मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शुक्रवार को कलेक्टर, कमिश्नर, आइजी-पुलिस अधीक्षकों के साथ जनजातीय दिवस की तैयारियों को लेकर वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से हुई समीक्षा में कही। उन्होंने कहा कि विभिन्न जिलों से आने वाले जनजातीय भाई-बहन हमारे अतिथि हैं। भोपाल की परंपरा के अनुसार सम्मान और सत्कार किया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने अधिकारियों से कहा कि यह सर्वोच्च प्राथमिकता वाला कार्यक्रम है। इसकी तैयारियों में कोई कसर न छोड़ें। दूर से आने वाले वाहनों के साथ कोई परेशानी न आए, इसकी चिंता करें। खंडवा कलेक्टर ने बताया कि हमने प्रत्येक बस में एक मैकेनिक भेजने की व्यवस्था बनाई है। अन्य जिले भी ऐसा ही करें। एंबुलेंस भी साथ आए ताकि कुछ भी जरूरत पड़े तो तत्काल व्यवस्था हो जाए। कार्यक्रम में जनजातीय विविधता की झलक नजर आए, इसके लिए जनजातीय भाई-बहन परंपरागत वेशभूषा में आएं।

भोजन की व्यवस्था में नहीं हो कमी

मुख्यमंत्री ने कहा कि यह कार्यक्रम संपूर्ण देश में चर्चा का विषय है। यह सर्वोच्च प्राथमिकता का कार्यक्रम है। सब भाई-बहनों के सुरक्षित परिवहन उनके रहने और भोजन की व्यवस्था में कोई कमी नहीं रहनी चाहिए। विभिन्न जिलों से आने वाले जनजातीय भाई-बहन सुरक्षित आए और सुरक्षित अपने घर पहुंचें यह हमारी जिम्मेदारी है। बैठक में जानकारी दी गई कि सुरक्षित परिवहन सुनिश्चित करने के लिए बसों के फिटनेस का परीक्षण किया जा रहा है। साथ ही ब्रीथ एनालाइजर से रास्ते में ड्राइवरों के परीक्षण की भी व्यवस्था सुनिश्चित की गई है। इस दौरान पूर्व मंत्री रामपाल सिंह, प्रमुख सचिव जनजातीय कार्य श्रीमती पल्लवी जैन गोविल, प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री सचिवालय मनीष रस्तोगी, आयुक्त जनसंपर्क सुदाम खाड़े तथा अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

परंपरागत वेशभूषा में सम्मलित होंगे जनजातीय समुदाय

मुख्यमंत्री ने रायसेन, बैतूल, धार, सीहोर, खरगोन, देवास, झाबुआ, होशंगाबाद, सिंगरौली, बड़वानी, अनूपपुर, मंडला, डिंडोरी, उमरिया, सिंगरौली, अलीराजपुर, खंडवा, छिंदवाड़ा और हरदा जिले के कलेक्टरों से जनजातीय भाई-बहनों के परिवहन, उनके रहने और भोजन की व्यवस्था आदि के संबंध में बात की। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि जनजातीय गौरव दिवस पर प्रदेश की जनजातीय विविधता को अभिव्यक्त करने के लिए भाई-बहन अपनी परंपरागत वेशभूषा में कार्यक्रम में सम्मिलित हों।

वीडियो – भाजयुमो पदाधिकारी से खास बात, क्लीक करे

हुड़दंग न्यूज

हुड़दंग न्यूज (दबंग शहर की दबंग खबरें) संवाददाता की आवश्यकता है- संपर्क कीजिये-  hurdangnews@gmail.com

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button