व्यापार

UPI payment : बड़े व्यापारियों को अगले तीन वर्षों में UPI पेमेंट पर लगेगा चार्ज

UPI payment : भविष्य में, UPI-आधारित भुगतान पर शुल्क लग सकता है। नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन  (Corporation) ऑफ इंडिया (एनपीसीआई) के प्रमुख दिलीप अशबे ने संकेत दिया है कि वह ऐसा करेंगे।

UPI payment : बड़े व्यापारियों को अगले तीन वर्षों में UPI पेमेंट पर लगेगा चार्ज
photo by social media

उन्होंने कहा कि बड़े व्यापारियों को अगले तीन वर्षों में यूपीआई-आधारित भुगतान के लिए उचित शुल्क देना पड़ सकता है। एनपीसीआई के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) और प्रबंध निदेशक  (director) ने कहा कि फिलहाल हमारा पूरा ध्यान नकदी के लिए व्यावहारिक भुगतान विकल्प तैयार करने और यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस (यूपीआई) की स्वीकार्यता बढ़ाने पर है।

UPI payment : NPCI हेड ने दिए संकेत

  • एनपीसीआई प्रमुख दिलीप अस्बे ने कहा, ‘दीर्घकालिक नजरिए से उचित शुल्क लगाया जाएगा। यह शुल्क छोटे व्यापारियों से नहीं, बल्कि बड़े व्यापारियों  (traders) से लिया जाएगा. पता नहीं यह कब लागू होगा.

यह एक साल, दो साल या तीन साल बाद हो सकता है.” यूपीआई पर शुल्क एक विवादास्पद   (controversial)  मुद्दा है. इंडस्ट्री में इस तरह के चार्ज लगाने की मांग उठती रही है. वर्तमान में सरकार ऐसे लेनदेन के लिए पर्यावरण में संस्थाओं को मुआवजा देती है। इससे डिजिटलीकरण के लक्ष्य की ओर बढ़ने में मदद मिली है।

UPI payment : बड़े व्यापारियों को अगले तीन वर्षों में UPI पेमेंट पर लगेगा चार्ज
photo by social media

UPI payment : सिक्योरिटी पर बजट बढ़ा

UPI payment : इसके साथ ही दिलीप अस्बे ने साइबर सुरक्षा और सूचना सुरक्षा पर खर्च को मौजूदा 10 फीसदी से बढ़ाकर बैंक के आईटी बजट का 25 फीसदी करने की भी बात कही. उन्होंने कहा, जोखिम बरकरार है, यह खर्च सावधानी  (Caution) से बढ़ाया जाना चाहिए.

  • लेकिन, भविष्य में अधिक नवप्रवर्तन के लिए अधिक धन, अधिक लोगों को शामिल करने और ‘कैशबैक’ जैसे प्रोत्साहनों की आवश्यकता होगी, उन्होंने कहा। उन्होंने कहा कि सिस्टम में 50 करोड़ और लोगों को जोड़ने की जरूरत है.

आपको बता दें कि यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस (UPI) प्लेटफॉर्म के जरिए लेनदेन कैलेंडर वर्ष 2023 में 100 बिलियन को पार कर गया और लगभग 118 बिलियन रुपये पर बंद हुआ। यह रिकॉर्ड किए गए 74 बिलियन यूपीआई लेनदेन में 60 प्रतिशत  (Percent)  की वृद्धि दर्शाता है।

Also Read –  Bridal Mehndi Design : मेहंदी की ये खूबसूरत डिज़ाइन ब्राइडल के हाथो पर खूब जचेगी

सुलेखा साहू

समाचार संपादक @ हुड़दंग न्यूज (दबंग शहर की दबंग खबरें)समाचार / लेख / विज्ञापन के लिए संपर्क कीजिये-  hurdangnews@gmail.com

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button