अन्य

GK News : कंप्यूटर Mouse को ‘चूहा’ नाम क्यों दिया गया?

हम यह अक्सर सोचते होंगे कि इसका नाम एक छोटे से जानवर चूहे के नाम पर क्यों रखा गया। दुनिया भर में इतने सारे जानवरों और चीजों में चूहे का नाम क्यों रखा गया? आईये आपको बताते हैं।

पहला माउस लकड़ी का बना था :
दरअसल जब माउस का अविष्कार हुआ था तो इसे पॉइंटर डिवाइस कहा जाता था। इसका आविष्कार डगलस कार्ल एंगेलबर्ट (Douglas Engelbart) ने 1960 के दशक में किया था। आपको जानकर हैरानी होगी कि उन्होंने लकड़ी से बना दुनिया का पहला माउस बनाया था, जिसमें 2 धातु के पहिये थे। हम बात कर रहे हैं उस समय की जब पहली पीढ़ी के कंप्यूटर चल रहे थे। यह वह युग था जब कंप्यूटर एक कमरे के आकार के होते थे।

चूहे की तरह दिखता है और चूहे की तरह काम करता है :
आइए बात करते हैं कि इस कंप्यूटर डिवाइस का नाम माउस क्यों पड़ा। दरअसल, माउस की खोज के बाद जब इसकी डिजाइनिंग की बात आई तो पता चला कि माउस एक छोटा सा उपकरण था, जो देखने में ऐसा लग रहा था जैसे कोई चूहा छिपा हो। पीछे से निकला हुआ तार चूहे की पूँछ जैसा होता है। इसके अलावा जिस तरह माउस हर काम जल्दी करता है, उसी तरह इस माउस का काम हमारे काम की स्पीड को बढ़ाने का काम करता है। इतना सोचने के बाद अगर चूहे का नाम नहीं होता तो चूहे के साथ अन्याय होता।

चूहों को पहले Turtle कहा जाता था? :
एक और कहानी है, जिसके अनुसार चूहे को पहले Turtle कहा जाता था। क्योंकि इस कंप्यूटर माउस का खोल कछुआ जितना सख्त होता है और आकार कुछ हद तक एक जैसा होता है। हालांकि, कछुए की रफ्तार इतनी कम होती है कि चूहों पर उसका नाम लागू नहीं होता।

ब्लूटूथ माउस अब बाजार में है :
तकनीक के इस युग में जब वायर्स को पीछो छोड़ Bluetooth वाले माउस आ गए हैं, यानी जबसे चूहे की पूंछ गायब हो गई है, तो अब इसका नाम क्या होना चाहिए? इसपर भी मजाक-मजाक में चर्चाएं चलती रहती हैं।

हुड़दंग न्यूज

हुड़दंग न्यूज (दबंग शहर की दबंग खबरें) संवाददाता की आवश्यकता है- संपर्क कीजिये-  hurdangnews@gmail.com

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button